पहलवान साक्षी मलिक को नहीं मिला ‘ओलंपिक मेडल’, कहा- ‘न जमीन दी और न नौकरी’

भारत की दिग्गज पहलवान साक्षी मलिक (Sakshi Malik) ने हरियाणा सरकार पर वादा पूरा न करने का आरोप लगाया है. ओलंपिक मेडलिस्ट (Olympic Medalist) साक्षी ने आरोप लगाया है कि दुनिया के सबसे बड़े स्टेज पर सफल होने के बाद भी उनको सिर्फ आश्वासन दिया जा रहा है, लेकिन वादे के मुताबिक पुरस्कार नहीं दिया जा रहा है. Sakshi ने 2016 के रियो ओलंपिक (Rio Olympic) में Bronze Medal अपने नाम किया था.

हाल ही में अर्जुन पुरस्कार (Arjun Prushkar) के लिए नामित किए गए 29 खिलाड़ियों में से एक साक्षी मलिक ने कहा कि सरकार ने वादे के मुताबिक, उनको न तो 500 गज जमीन दी और ना ही सरकारी नौकरी. इतने सालों से सिर्फ आश्वासन ही मिल रहा है.

Sakshi Malik

साक्षी ने ठीक 4 साल पहले 18 August 2016 को ही अपने देश के लिए रियो ओलंपिक में कुश्ती में ब्रॉन्ज मेडल जीता था. कुश्ती का ओलंपिक मेडल जीतने वाली साक्षी पहली भारतीय महिला पहलवान बनी थीं. इतना ही नहीं, रियो ओलंपिक में भारतीय एथलीटों के निराशाजनक प्रदर्शन के बीच देश को पहला मेडल साक्षी ने ही दिलाया था.

इस उपलब्धि के 4 साल बाद भी पुरस्कार नहीं मिलने पर साक्षी ने निराशा जताई. उन्होंने कहा, “राज्य के खेल मंत्री अनिल विज और मुख्यमंत्री से भी मुलाकात की है, लेकिन वहां से भी उन्हें सिर्फ आश्वासन ही दिया जा रहा है कि काम हो रहा है, लेकिन अभी तक कुछ नहीं हुआ.”

अगर धोनी मैदान से विदाई के लिए नहीं माने तो BCCI के पास तैयार है प्लान-बी

Related posts

Leave a Comment