बुलंदशहर: बुलेट सवार मनचले कर रहे थे पीछा, अमेरिका में पढ़ने वाली सुदीक्षा लॉकडाउन में घर आई थी

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में छेड़छाड़ से बचने की कोशिश में एक छात्रा की सड़क हादसे में मौत हो गई। घटना गढ़ हाइवे स्थित चरौरा मुस्तफाबाद गांव के पास सोमवार सुबह 11 बजे हुई। मृतक छात्रा का नाम सुदीक्षा भाटी है वे उत्तर प्रदेश की रहने वाली है। वह लॉकडाउन के दौरान अमेरिका से लौटी थी। परिवार का आरोप है कि बाइक सवार कुछ लोग उससे छेड़खानी कर रहे थे। हादसे में सुदीक्षा के चाचा भी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

बुलंदशहर बुलेट सवार मनचले कर रहे थे पीछा

मामा के घर जा रही थी सुदीक्षा भाटी

सुदीक्षा अपने चाचा निगम भाटी के साथ बाइक पर मामा के घर माधवगढ़ जा रही थी। वे बुलंदशहर-गढ़ हाइवे स्थित चरौरा मुस्तफाबाद गांव के मोड़ के पास पहुंचे। यहां उनकी एक बाइक की बुलेट सवार से टक्कर हो गई। हादसे में 17 साल की सुदीक्षा की मौके पर ही मौत हो गई। निगम गंभीर रूप से घायल हो गए है। बुलेट सवार फरार हो गए वहाँ से। पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और उसने निगम को अस्पताल में भर्ती कराया। छात्रा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

बुलंदशहर बुलेट सवार मनचले कर रहे थे पीछा

सुदीक्षा के परिवार का आरोप है कि बुलेट सवार युवक बार-बार स्कूटी को ओवरटेक कर रहा था। उसने स्कूटी के सामने आकर अचानक ब्रेक मारा। इससे निगम ने स्कूटी पर कंट्रोल खो दिया और फिर निगम और सुदीक्षा दोनों नीचे गिरे। सुदीक्षा की मौत हो गई। चाचा अस्पताल में हैं।

सुदीक्षा भाटी को हायर एजुकेशन के लिए स्कॉलरशिप मिली थी

सुदीक्षा को भारत सरकार से स्कॉलरशिप मिली थी। वह अमेरिका के बॉब्सन कॉलेज में बिजनेस मैनेजमेंट का कोर्स कर रही थी। उसे एचसीएल की तरफ से पिछले साल 3.80 करोड़ रुपए की स्कॉलरशिप भी मिली थी। सुदीक्षा जून में भारत लौटी थी और उसे 20 अगस्त को अमेरिका लौटना था वापस।

मायावती की मांग

बीेएसपी सुप्रीमो मायावती ने घटना की निंदा करते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

नींद की गोली और इंजेक्शन देकर कर दी 11 लोगों की हत्या! – कातिल प्रिया

Related posts

Leave a Comment