किसान बिल के विरोध में केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने दिया इस्तीफा

कृषि बिल को लेकर मोदी सरकार को बड़ा झटका लगा। शिरोमणि अकाली दल ने लोकसभा में इस बिल का विरोध किया है।​​​ इसके बाद शिरोमणी अकाली दल की नेता और फूड प्रोसेसिंग मिनिस्टर हरसिमरत कौर बादल (Harsimrat Kaur Badal) ने किसान बिल के विरोध में मोदी सरकार से इस्तीफा भी दे दिया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) ने इस्तीफा मंजूर कर लिया है। इसके बाद इस मंत्रालय का प्रभार कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) को सौंपा गया है।

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने ट्वीट किया कि किसानों को भ्रमित करने में बहुत सारी शक्तियां लगी हुई हैं। मैं किसान भाइयों-बहनों को आश्वस्त करता हूं कि ये विधेयक सही मायने में उन्हें सशक्त करने वाले हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा- “मैंने किसानों के खिलाफ लाए जा रहे बिल को लेकर केंद्रीय कैबिनेट के मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। मुझे गर्व है कि मैं अपने किसानों के साथ उनकी बहन और बेटी के तौर पर खड़ी हूं।”

इससे पहले पार्टी के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल (Sukbir Singh Badal) ने गुरुवार को लोकसभा में घोषणा की थी कि केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल अपना फूड प्रोसेसिंग कैबिनेट मिनिस्टर का पद छोड़ेंगी। बता दें केंद्र सरकार ने किसानों के लिए तीन बिल प्रस्तावित किए थे। इसके बाद से ही विपक्षी पार्टियां इसका विरोध कर रही हैं।

केंद्र सरकार के साथ गठबंधन में शामिल है अकाली दल

हालांकि, अकाली दल सरकार के साथ गठबंधन में शामिल है। बावजूद इसके उनकी पार्टी की नेता ने सरकार के इस कदम का विरोध जताते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि किसानों को लेकर जो भी बिल सदन में प्रस्तावित किए गए हैं, वह 50 साल की उस पूरी मेहनत को खत्म कर देंगे जो राज्य सरकार ने पंजाब में कृषि सेक्टर को मजबूत करने में लगाए हैं।

बंगाल के आर्टिस्ट ने बनाया सुशांत सिंह राजपूत का मोम का पुतला, तस्वीरें हुई वायरल

Related posts

Leave a Comment