दुनिया के सबसे तेज सुपर कंप्यूटर को कोरोना वायरस का इलाज ढूंढने के लिए किया इस्तेमाल

कोरोना से लड़ने के लिए तैयार है दुनिया का सबसे तेज सुपर कंप्यूटर. दुनिया के सबसे तेज सुपर कंप्यूटर को कोरोना वायरस का इलाज ढूंढने के लिए इस्तेमाल में लाया जाएगा. रिसर्च शुरू हो चुकी है और फिलहाल इस सुपर कंप्यूटर से कोरोना वायरस स्प्रेड को लेकर रिसर्च किया जा रहा है.  कोरोना वायरस को लेकर दुनिया भर में कई तरह के रिसर्च चल रहे हैं. वैक्सीन बनाने से लेकर ये वायरस कैसे फैल रहा है और इसकी शुरुआत कैसे हुई सब यह जाने में लगे है, इन सब चीजों का पता लगाने के लिए रिसर्च जारी है बहोत समय से।

कोरोना से लड़ने के लिए तैयार है दुनिया का सबसे तेज सुपर कंप्यूटर. दुनिया के सबसे तेज सुपर कंप्यूटर को कोरोना वायरस का इलाज ढूंढने के लिए इस्तेमाल में लाया जाएगा.

दुनिया के सबसे तेज सुपर कंप्यूटर को कोरोना वायरस का इलाज ढूंढने के लिए किया इस्तेमाल

इसी बीच दुनिया का सबसे तेज सुपर कंप्यूटर Fugaku को भी कोरोना वायरस से जुड़े रिसर्च के लिए लगाया गया है. ये जापान का है और हाल ही में इसने IBM के समिट सुपर कंप्यूटर को पीछे छोड़ कर नंबर-1 बन गया है. इसे जापान की कंपनी Fujistu और सरकारी रिसर्च इंस्टिट्यूट Riken ने मिल कर तैयार किया है. जापान के पास फिलहाल दुनिया का सबसे तेज सुपर कंप्यूटर है और इसे कोरोना वायरस ट्रीटमेंट और फैलने से जुड़े रिसर्च के लिए यूज किया जा रहा है. गौरतलब है कि Fugaku नाम का ये सुपर कंप्यूटर दुनिया भर के सुपर कंप्यूटर्स से ज्यादा तेज है.

  • टॉप-500 सुपर कंप्यूटर्स की लिस्ट में Fugaku पहले नंबर पर है
  • दूसरे नंबर पर IBM का सुपर कंप्यूटर है जिसका नाम Summit है

Fugaku सुपर कंप्यूटर जिसे कोरोना वायर ट्रीटमेंट से जुड़े रिसर्च के लिए यूज किया जा रहा है, वही इसकी स्पीड की बात करें तो ये एक सेकंड में 4.15 लाख ट्रिलियन कंप्यूटेशन कर सकता है. IBM के Summit सुपर कंप्यूटर की बात करें तो Fugaku इससे 2.5 गुना तेज है.

गलवान घाटी के पास चीनी सैनिकों की संख्या में देखी गई कमी

Related posts

Leave a Comment