शादी के दो दिन बाद हुई थी दूल्हे की मौत; विवाह और अंतिम संस्कार में शामिल लोग हुए संक्रमित

Paliganj (Bihar) – राजधानी पटना से करीब 50 किलोमीटर दूर स्थित पालीगंज में कोरोना का खौफ। यहां बीमार होने के बाद भी कोरोना संक्रमित दूल्हे अनिल का विवाह कराया गया और यह बात यही दबा दी गयी। शादी के दो दिन बाद ही उसने दम तोड़ दिया। अनिल के शादी समारोह और अंतिम संस्कार में शामिल होने वाले 108 लोग अभी तक संक्रमित पाऐ गए हैं। पालीगंज ब्लॉक के कई गांव को सील किया गया है। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के कर्मी लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों से घर में रहने और बाजार में भीड़ न इकट्ठा करने की अपील कर रहे हैं।

लॉकडाउन के दौरान गुरुग्राम से आया था अनिल

अनिल निजी वाहन से गुरुग्राम से लॉकडाउन के दौरान गांव आया था। उसकी शादी पहले से तय थी। विवाह के पहले से अनिल की तबियत
बहुत खराब थी, लेकिन परिजन ने इस बात को वही दबा दिया। अनिल बाहर से आया था तब भी उसकी जांच नहीं कराई गई और न ही उसे क्वारंटाइन किया गया। 28 जून को बारात नौबतपुर गई। विवाह के दो दिन बाद ही अनिल की स्थिति खराब हो गई। परिजन उसे लेकर पटना एम्स पहुंचे, लेकिन अस्पताल के गेट पर ही उसने दम तोड़ दिया। इसके बाद परिजन शव को लेकर गांव आ गए और उसका अंतिम संस्कार कर दिया।

विवाह के दो दिन बाद ही दूल्हा की मौत

अनिल की मौत हुई तो पालीगंज में यह बात फैल गई कि दूल्हे की मौत कोरोना के चलते हुई। जानकारी मिलने पर स्वास्थ्य विभाग ने पालीगंज के लोगों का रैंडम सैंपल लिया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 105 लोगों के सैंपल लिए। जांच रिपोर्ट में 15 लोग संक्रमित पाए गए। सभी संक्रमित अनिल के शादी समारोह में शामिल हुए थे। इसके बाद जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। विवाह समारोह में शामिल 375 लोगों के सैंपल लिए गए, जिनमें से 93 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

कोरोना वायरस से दो लोगों की मौत के बाद उनके शव को JCB से शवदाह गृह पहुंचाया गया

Related posts

Leave a Comment