तेलंगाना में पावर प्लांट में आग: इनमें प्लांट के 4 अफसर शामिल; 10 लोगों को बचाया गया

तेलंगाना के श्रीसैलम हाइडल पावर प्लांट (Srisailam Hydral Power Plant) में लगी आग के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म हो गया है। लापता सभी 9 लोगों के शव बरामद कर लिए गए हैं। रेस्क्यू टीम ने 10 लोगो की जान बचा लिया। इनमें 6 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल हादसे की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है, और हादसे के वक्त वह प्लांट में 19 लोग मौजूद थे।

नागरकुर्नूल के कलेक्टर एल शर्मा ने बताया कि जिनकी बॉडी मिली है, उनमें तीन असिस्टेंट इंजीनियर मोहन कुमार, सुंदर, और  उजमा फातिमा हैं। वहीं, एक डिविजनल इंजीनियर श्रीनिवास गौड़ भी हैं। इनमें बैट्री कंपनी का कर्मचारी महेश भी शामिल है।

तेलंगाना में पावर प्लांट में आग

तेलंगाना(Telangana) के मंत्री जी जगदीश्वर रेड्डी (Jagdishwar Reddy) ने बताया कि हादसा गुरुवार रात करीब 10.30 बजे हुआ। पावर सप्लाई भी बंद कर दी गई थी। हम सिंगारेनी कोल माइंस से मदद लेने की कोशिश कर रहे हैं, क्योंकि वे इस स्थिति पर काबू पाने में मददगार साबित हो सकते हैं।

प्लांट में काफी धुआं उठा

आग लगने के बाद प्लांट में काफी धुआं भर गया था। इसकी वजह से बचाव अभियान में बहुत मुश्किल आई। श्रीसैलम डेम कृष्णा नदी पर है, जो आंध्र प्रदेश और तेलंगाना की सीमा पर स्थित है। मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने कहा है कि वे लगातार अपडेट ले रहे हैं। उन्होंने मंत्री जगदीश्वर रेड्डी और ट्रांसको-जेंको कंपनी के सीएमडी (CMD) डी प्रभाकर राव से बात की।

चुनाव को लेकर EC ने जारी किया गाइडलाइन, प्रत्याशियों का नामांकन ऑनलाइन होगा

Related posts

Leave a Comment