दिल्ली में किसानों का हल्ला बोल, बॉर्डर पर कड़ी सुरक्षा, बंगाल में ट्रेड यूनियन का भी प्रदर्शन

केंद्र सरकार के किसान कानून के खिलाफ पंजाब (Punjab) और हरियाणा (Haryana) से बड़ी संख्या में किसान दिल्ली आ रहे हैं. आंदोलनकारी किसानों को दिल्ली (Delhi) में घुसने से रोकने के लिए पुलिस जुट गई है. इसके लिए दिल्ली की सीमाओं को सील किसानों के लिए सील कर दिया गया है.

दिल्ली में दोपहर 2 बजे मेट्रो सेवा रहेगी डिस्टर्ब

किसान आंदोलन की वजह से दिल्ली में मेट्रो सेवा पर भी आंशिक असर पड़ा है. पड़ोसी राज्यों से आने वाले मेट्रो रूट पर दोपहर 2 बजे तक मेट्रो सेवा बंद रहेगी. इस अवधि के दौरान दिल्ली के 12 मेट्रो स्टेशन (Metro Station) से लोगों के बाहर निकलने पर भी प्रतिबंध रहेगा. पंजाब-हरियाणा से आ रहे हजारों किसानों को दिल्ली में घुसने से रोकने के लिए सीमा पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

कुरुक्षेत्र में पुलिस ने किसानों पर चलाई वाटर कैनन

इस बीच दिल्ली (Delhi) की ओर मार्च कर रहे आंदोलनकारी किसानों पर पुलिस ने वॉटर कैनन चलाया और भीड़ को तोड़ने की कोशिश की गई. दिल्ली चलो का नारा दे रहे किसानों का मार्च जब बुधवार को कुरुक्षेत्र पहुंचा तो किसानों को रोकने के लिए पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल किया. किसानों के आंदोलन और उन्हें रोके जाने को लेकर हरियाणा (Haryana) के गृहमंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने कहा है कि आम जनता को तकलीफ न हो, इसके लिए पूरी तैयारी कर ली गई है.

रेलवे ने कई ट्रेनों के रूट और समय में बदलाव किया

रेलवे ने अमृतसर से आने जाने वाली रेलगाड़ियों को या तो रद्द कर दिया है या फिर रूट या समय में बदलाव किया गया है. अमृतसर (Amritsar) से आने जाने वाली 12 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है. जबकी अमृतसर के रूट पर चलने वाली 9 ट्रेनों के समय और स्टेशनों में बदलाव किया गया है. किसान आंदोलन की अवधि के दौरान पड़ोसी शहरों से दिल्ली (Delhi) के अंदर न तो कोई मेट्रो एंट्री करेगी और न ही बाहर जाएगी.

दोपहर 2 बजे के बाद सामान्य हो जाएगी मेट्रो सेवा

हालांकि ये आदेश केवल दोपहर 2 बजे तक के लिए है. उसके बाद मेट्रो सेवा सामान्य रूप से चलने लगेगी. दिल्ली से सटे Haryana और UP की सीमाओं से आने वालों को भी एडवाइजरी जारी कर दी गई है.

वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल का निधन, 1 महीना पहले हुए थे कोरोना पॉजिटिव

Related posts

Leave a Comment