प्रवासी मजदूरों की मदद करने वाले Sonu Sood को EC ने बनाया पंजाब का ‘आइकॉन’, राज्य में चलाएंगे जागरुकता अभियान

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद (Sonu Sood) यूएन से सम्मान मिलने के बाद अब भारतीय निर्वाचन आयोग ने उन्हें सम्मान दिया है. निर्वाचन आयोग ने उन्हें पंजाब का राज्य ‘Icon’ नियुक्त किया है. इसकी जानकारी एक आधिकारिक बयान में दी. बयान में पंजाब के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एस करुणा राजू के हवाले से कहा गया कि उनके कार्यालय ने भारत निर्वाचन आयोग को इस संबंध में एक प्रस्ताव भेजा था.

भारतीय निर्वाचन आयोग ने इस प्रस्ताव को मंजूर कर लिया. अब Sonu Sood राज्य में चुनाव से संबंधित जागरुकता अभियान चलाएंगे. सोनू सूद पंजाब के मोगा जिले के रहने वाले हैं. सोनू सूद को बतौर एक्टर पूरे देश में पहले से ही लोग जानते हैं. उन्होंने हिंदी, पंजाबी और दक्षिण भारतीय सिनेमा में काम किया है. लेकिन उनकी एक अलग पहचान उस वक्त बनी, जब उन्होंने और उनकी टीम ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान लॉकडाउन (Lockdown) में फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने में बढ़-चढ़कर मदद की.

मजदूरों का मसीहा

Sonu Sood ने प्रवासी मजदूरों और कामगारों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए बसों, फ्लाइट और ट्रेन सेवा उपलब्ध कराई थी और उनके इस मानवीय कार्य की समाज के सभी तबकों ने उनकी प्रशंसा की. Sonu Sood अब भी लोगों की मदद कर रहे हैं. लोगों ने उन्हें मजदूरों और कामगारों का मसीहा तक कहा.

यूएन से मिला सम्मान

कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूरों की मदद करने वाले सोनू को ‘एडीजी स्पेशल ह्यूमैनिटेरियन एक्शन अवार्ड’ (ADG Special Humanitarian Action Award) से सम्मानित किया गया. उन्हें ये सम्मान सुंयक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम(UNDP) ने दिया है. सोनू सूद को ये अवार्ड सोमवार शाम वर्चुअल सेरेमनी के दौरान दिया गया. ये सम्मान मिलने पर सोनू सूद ने खुशी जताई है. उन्होंने कहा कि वह UNDP और इसके प्रयासों को भी सपोर्ट करेंगे.

WHO चीफ की चेतावनीः वैक्सीन आने के बावजूद कोरोना वायरस संक्रमण अपने आप नहीं रुकेगा

Related posts

Leave a Comment