सोनू सूद की मदद से किर्गिस्तान में फंसे 135 भारतीय छात्र पहुंचे भारत

बॉलीवुड के एक्टर Sonu Sood लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों के लिए मसीहा के तौर पर काम करते हुए नजर आए। सोनू सूद ने 20,000 से ज्यादा प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाया है । सोनू के इस नेक काम की तारीफ चारों तरफ हो रही है, लेकिन सोनू अभी भी रुके नहीं हैं। हाल ही में सोनू ने किर्गिस्तान में फंसे लगभग 2500 भारतीय स्टूडेंट्स को भारत लाने का प्लान बनाया है।

सोनू ने छात्रों को अपने वतन वापस बुलाने के लिए स्पाइसजेट एयरलाइंस का विमान बुक कराया है। 10 फ्लाइट के जरिए ये स्टूडेंट भारत वापसी करेंगे। पहली फ्लाइट भारत में लैंड कर चुकी है। 135 छात्रों को लेकर गुरुवार की शाम 4:00 बजे विमान ने उड़ान भरी और रात 9:40 पर वाराणसी के बाबतपुर पहुंची।

Sonu Sood की मदद से किर्गिस्तान में फंसे 135 भारतीय छात्र पहुंचे भारत, 2500 छात्रों की करेंगे मदद

135 छात्रों के सकुशल भारत लौटने की जानकारी सोनू Sood ने अपने सोशल मीडिया पर दी। सोनू सूद ने लिखा – किर्गिस्तान से वाराणसी तक पहली फ्लाइट आ चुकी है और यिह देखकर मैं काफी खुश हुआ। स्पाइसजेट का बहुत-बहुत शुक्रिया इस मिशन को सक्सेसफुल बनाने के लिए। किर्गिस्तान से दूसरी फ्लाइट 24 जुलाई को उड़ान भरेगी। मैं चाहता हूं जितने भी स्टूडेंट है मुझे अपनी डिटेल जल्द से जल्द भेजें।

एक इंटरव्यू में सोनू सूद ने बताया कि जब हम मजदूरों को उनके घर भेज रहे थे तब किर्गिस्तान में फंसे मेडिकल स्टूडेंट्स और उनके माता-पिता ने मुझसे कांटेक्ट किया था कि बच्चे बहुत समय से अपने देश वापस आना चाहते हैं और कृपया आप मदद करें। 3800 स्टूडेंट की लिस्ट थी जिस पर हमने काम किया। मेरी टीम ने लिस्ट बनाई। 12 घंटे का ये सफर होगा इसके बाद मैंने स्पाइसजेट(Spicejet) से कांटेक्ट किया।

सोनू सूद ने कहा – मैंने सोचा कि ये लोग हमारे देश का भविष्य है। ये सभी डॉक्टर बनने वाले हैं। इन्हें तो देश वापस लाना ही पड़ेगा। बहरहाल 135 स्टूडेंट्स घर वापसी कर चुके हैं और जल्द ही बाकी सभी छात्र भी अपने देश वापस लौट आएंगे।

सोनू सूद मददगार सितारा : मुंबई पुलिस को दिए 25 हजार फेसशील्ड

Related posts

Leave a Comment