तेजस्वी के घोषणापत्र में 10 लाख नौकरी, 85% कोटा बिहारियों के लिए, RJD ने बताई वजह

राष्ट्रीय जनता दल ने पहले चरण के मतदान से 4 दिन पहले अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. घोषणापत्र जारी करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा ये घोषणापत्र हमारा प्रण है. RJD ने अपने मेनिफेस्टो में बिहार के बेरोजगार युवाओं के लिए 10 Lakh नौकरी का वादा किया है. RJD के मेनिफेस्टो में वादा किया गया है कि तेजस्वी सरकार बनने के बाद जो कैबिनेट की पहली बैठक होगी उसमें युवाओं को 10 Lakh नौकरी देने का वादा पूरा किया जाएगा.

85% कोटा क्यों का जवाब

इसके साथ घोषणापत्र में RJD ने बिहार (Bihar) में डोमिसाइल नीति लागू करने का भी वादा किया गया है. मेनिफेस्टो में कहा गया है कि तेजस्वी सरकार बनने के बाद बिहार में डोमिसाइल नीति लागू की जाएगी जिसके अंतर्गत राज्य सरकार की नौकरियों में बिहार के युवाओं को 85% का आरक्षण दिया जाएगा.

RJD नेता मनोज झा (Manoj Jha) ने राज्य की 85% नौकरियों को बिहार के बेरोजगारों के लिए आरक्षित करने के सवाल पर कहा कि हालांकि वे दूसरे राज्यों में इस तरह के आरक्षण का विरोध करते हैं, लेकिन बिहार के लिए यह सही पॉलिसी है क्योंकि बिहार संसाधन विहीन राज्य है.

बेरोजगारी बिहार चुनाव का बड़ा मुद्दा

बिहार (Bihar) चुनाव में बेरोजगारी एक बहुत बड़ा मुद्दा बनकर सामने आया है. राज्य सरकार ने युवाओं को लुभाते हुए राज्य सरकार की नौकरियों और प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए आवेदन शुल्क शून्य कर दिया है, यानी अब हर परीक्षा के लिए 500 से 1000 रुपये छात्र-छात्राओं को नहीं देने पड़ेंगे.

मेनिफेस्टो में RJD की सरकार बनने के बाद युवाओं के लिए बिहार युवा आयोग के गठन की भी बात कही गई है. आरजेडी ने वादा किया है कि 35 वर्ष तक के बेरोजगार युवाओं को प्रतिमाह 1500 रुपया बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा.

दिल्ली: पूर्व क्रिकेट कप्तान कपिल देव अस्पताल में भर्ती, एंजियोप्लास्टी सर्जरी के बाद खतरे से बाहर

Related posts

Leave a Comment