रजनीकांत राजनीति में उतरेंगे, 31 दिसंबर को पार्टी का ऐलान करेंगे

दक्षिण के सुपर स्टार रजनीकांत (South Super Star Rajnikanth) (69) ने राजनीतिक पार्टी बनाने का ऐलान किया है। एक्टर ने 2021 का विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान भी किया। रजनीकांत ने गुरुवार को कहा कि पार्टी के बारे में औपचारिक घोषणा 31 दिसंबर को की जाएगी। उन्होंने कहा कि हम कड़ी मेहनत करेंगे और जीतेंगे।

रजनीकांत पिछले कई महीनों से राजनीति में सक्रिय हैं, लेकिन पहली बार उन्होंने सियासी पारी को लेकर अपने पत्ते खोले हैं। पार्टी बनाने और विधानसभा चुनाव में उतरने के ऐलान के बाद तमिलनाडु (Tamil Nadu) की राजनीति में एक और एक्टर की एंट्री होगी। इससे पहले वहां फिल्मी कलाकार राजनीति में कामयाबी हासिल करते रहे हैं।

सालभर पहले कमल हासन से गठबंधन की बात कही थी

रजनीकांत ने पिछले साल एक्टर कमल हासन (Kamal Hasan) के साथ गठबंधन करने की बात कही थी। तब रजनीकांत ने कहा था कि राज्य की जनता के हितों को देखते हुए यदि कमल हासन के साथ गठबंधन करने की स्थिति बनती है, तो वे जरूर एक-दूसरे के साथ आएंगे।

फिल्मों के दिग्गज, जिन्होंने राजनीति में भी नाम कमाया

  • डॉ. एमजी रामचंद्रन: MGR के नाम से मशहूर रामचंद्रन तमिल फिल्मों के मशहूर अभिनेता थे। पहले सीएन अन्नादुरई की द्रमुक में आए। अन्नादुरई के निधन के बाद अपने दोस्त एम करुणानिधि से मतभेद के बाद नई पार्टी अन्नाद्रमुक बनाई। 1977 से 1980 और 1980-84 दो बार मुख्यमंत्री रहे।
  • एम करुणानिधि: तमिल फिल्मों में स्क्रीनराइटर रहे। कई हिट फिल्मों की पटकथा लिखी, जिनमें MGR की फिल्में भी शामिल हैं। द्रमुक जॉइन की। 5 बार मुख्यमंत्री रहे।
  • जे जयललिता: तमिल फिल्मों का जाना-माना नाम थीं। MGR के साथ कई फिल्मों में आईं। बाद में अन्नाद्रमुक जॉइन की। 4 बार मुख्यमंत्री रहीं।
  • विजयकांत: एक्टर-डायरेक्टर-प्रोड्यूसर थे। बाद में देसीय मुरपोक्कु द्रविड़ कड़गम (DMDK) बनाई। 2011 के विधानसभा चुनाव में 29 सीटें जीतीं। अपनी पार्टी के महासचिव और वर्तमान में विधायक हैं।
  • कमल हासन: एक्टर के तौर पर काफी नाम कमाया। फिल्म प्रोड्यूसर, डायरेक्टर, राइटर रहे। हिंदी फिल्मों में भी काम किया। 2018 में अपनी पार्टी मक्कल नीधि मय्यम बनाई। अभी तक चुनावों में हिस्सा नहीं लिया है।
  • सरत कुमार: पहले द्रमुक, फिर अन्नाद्रमुक में गए। इसके बाद फिर द्रमुक जॉइन कर ली। फिर से अन्नाद्रमुक में चले गए। फिलहाल कोई बड़ी जिम्मेदारी नहीं है।
  • करुनास: कॉमेडियन थे। अब अन्नाद्रमुक के विधायक हैं।

Covid-19 Vaccine Updates: क्यों फाइजर की कोरोना वैक्सीन भारत के लिए नहीं है कोई सौगात?

Related posts

Leave a Comment