देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का 84 साल की उम्र में निधन

देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Pranab Mukherjee) का 84 साल की उम्र में निधन. ब्रेन क्लॉट सर्जरी के बाद वो वेंटिलेटर सपोर्ट पर थे. मुखर्जी कोरोना वायरस से भी संक्रमित से भी थे. पूर्व राष्ट्रपति को 10 अगस्त को उनके मस्तिष्क में क्लॉट हटाने की सर्जरी के बाद वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था.

वो पिछले कई दिनों से बीमार थे और अस्पताल में भर्ती भी थे. उनकी सर्जरी भी हुई थी. प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट कर प्रणब मुखर्जी के निधन की जानकारी दी.

प्रणब मुखर्जी साल 2012 देश के राष्ट्रपति बने थे, 2017 तक वो राष्ट्रपति रहे. साल 2019 में उन्हें भारत रत्न से सम्मानित भी किया गया था। प्रणब मुखर्जी को खराब स्वास्थ्य के कारण 10 अगस्त को दिल्ली के RR Hospital में भर्ती भी कराया गया था. उनके मस्तिष्क में खून का थक्का जमने के बाद सर्जरी की गई थी.

राष्ट्रपति समेत कई दिग्गजों ने दी श्रद्धांजलि

प्रणब मुखर्जी के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी. रामनाथ कोविंद ने ट्वीट में लिखा कि प्रणब मुखर्जी के निधन की खबर सुनकर दुख हुआ. उनका जाना एक युग का अंत है. प्रणब मुखर्जी ने देश की सेवा की, आज उनके जाने पर पूरा देश दुखी है.

चीन की सेना ने ईस्टर्न लद्दाख के पैंगोंग इलाके में घुसपैठ की कोशिश की

Related posts

Leave a Comment