नासा ने बनाया कोरोना से बचाने वाला नेकलेस ‘Pulse’

अमेरिकन स्पेस एजेंसी NASA ने तैयार किया है एक नेकलेस जो हाथों को चेहरे के पास आने पर वाइब्रेट होता है। नासा ने इसका नाम पल्स रखा है। नेकलेस के 12 इंच के दायरे में कोई मूवमेंट करने वाली चीज आने पर यह वाइब्रेट होता है। कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए बार-बार हाथों से मुंह, आंख और नाक को न छूने सलाह दी जा रही है ताकि वायरस शरीर में न पहुंच सके। नासा की जेट प्रोपल्शन लैब ने इसी बात को ध्यान में रखते हुए यह नेकलेस तैयार किया है।

कोरोना से बचाने वाला नेकलेस

कम कीमत में उपलब्ध होगा

नेकलेस तैयार करने वाली नासा की जेट प्रोपल्शन लैब के मुताबिक, जब तक कोरोनावायरस की वैक्सीन नहीं मिल जाती तब तक ‘पल्स’ को रोजमर्रा जीवन में शामिल किया जा सकता है क्योंकि हमें धीरे-धीरे अपने वर्कप्लस पर लौटना है। यह काफी कम कीमत में तैयार किया गया है, जिसे लोग आसानी खरीद सकेंगे और पहनने में भी कोई दिक्कत नहीं होगी। पल्स संक्रमण से बचाकर आपको स्वस्थ रखेगा।

नेकलेस में सिक्के के आकार की डिवाइस लगी है जो गर्दन के करीब रहती है। इसमें इंफ्रारेड सेंसर लगे हैं तो 12 इंच के दायर में मूवमेंट पर नजर रखते हैं। डिवाइस में 3 वोल्ट की बैट्री लगी है। सेंसर जैसे ही मूवमेंट का पता चलता है, इसमें लगी मोटर बाइब्रेशन पैदा करती है। लैब के मुताबिक, इस डिवाइस को 3डी प्रिंटर से तैयार किया गया है। सेंसर एक एलईडी लगा है जो वाइब्रेट होने पर जलता है। डिवाइस में अपने मन-मुताबिक कलर एलईडी का इस्तेमाल किया जा सकता है।

US ने खरीदी दुनिया में सप्लाई होने वाली कोरोना की सारी रेमडेसिवीर दवा

Related posts

Leave a Comment