15 अक्टूबर से खुलेंगे मल्टीप्लेक्स, SOP जारी : 50% सीटें ही बुक होंगी, सिर्फ पैक्ड फूड मिलेगा

कोरोना के बीच 7 महीने बाद खुल रहे है मल्टीप्लेक्स के लिए सरकार ने मंगलवार को स्डैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रॉसिजर (SOP) जारी कर दी गए है। कंटेनमेंट जोन को छोड़कर बाकी इलाकों में 15 October से 50% कैपेसिटी के साथ मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हॉल शुरू किए जा सकेंगे, लेकिन फिजिकल डिस्टेंसिंग रखनी होगी। दो लोगों के बीच में सीट खाली रखनी होगी। कोरोना अवेयरनेस पर फिल्म दिखाना भी जरूरी होगा। हर शो के बाद पूरा हॉल सैनिटाइज होगा।  यह SOP 4 हिस्सों में है..

एंट्री कैसे मिलेगी?

  • कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के लिए कॉन्टैक्ट नंबर देना होगा।
  • थर्मल स्क्रीनिंग होगी।
  • मास्क लगाना होगा।
  • एसिम्प्टोमैटिक लोगों को ही एंट्री देनी होगी।
  • जो लोग कोरोना गाइडलाइन न मानें, उनसे सख्ती से पेश आएं।

सिटिंग अरेंजमेंट कैसा होगा?

  • सिनेमा हॉल में 50% से ज्यादा ऑक्यूपेंसी नहीं रख पाएंगे।
  • एक सीट छोड़कर ही बुकिंग हो सकेगी।
  • एक के पीछे एक व्यक्ति नहीं बैठ पाएगा।
  • खाली सीटों के पीछे वाली सीट बुक होगी।
  • बाकी सीटों पर नॉट टू बी ऑक्यूपाइड लिखना होगा।
  • ऐसी सीटों पर या तो टेप लगाना होगा या फिर मार्कर लगाने होंगे।

सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स में अंदर जाने पर क्या होगा?

  • सिर्फ पैक्ड फूड की ही इजाजत होगी। इसके लिए ज्यादा काउंटर रखने होंगे। ऑनलाइन पेमेंट को बढ़ावा देना होगा।
  • लोग कतार में अंदर-बाहर जाएं, इसके लिए इंटरवल का वक्त बढ़ाया जा सकता है।
  • दो शो के बीच का वक्त अलग-अलग होगा।
  • हॉल के अंदर फूड और बेवरेजेस की डिलीवरी नहीं मिलेगी।
  • एक शो खत्म होने के बाद पूरा हॉल सैनिटाइज होगा, फिर दूसरे शो के लिए लोग आकर बैठ सकेंगे।
  • एक शो खत्म होने और दूसरा शुरू होने का एक ही वक्त नहीं रखा जा सकता।
  • एक शो खत्म होने पर लोगों को उनकी सीटों की कतार के हिसाब से बाहर निकाला जाएगा ताकि डिस्टेंसिंग रहे।

सिनेमा हॉल और मल्टीप्लेक्स में बाकी इंतजाम क्या करने होंगे?

  • सिंगल स्क्रीन सिनेमा हॉल में टिकट बुकिंग के लिए ज्यादा खिड़कियां खोलनी होंगी।
  • टिकट बुकिंग दिनभर हो। एडवांस बुकिंग की सुविधा मिले।
  • हॉल के बाहर 6 फीट की दूरी के लिए जमीन पर मार्कर लगाने होंगे।
  • क्रॉस वेंटिलेशन हो और AC 24 से 30 डिग्री पर रखें।
  • ऑनलाइन टिकट बुकिंग को बढ़ावा दिया जाना चाहिए।
  • आरोग्य सेतु ऐप के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है।
  • शो से पहले और बाद में और इंटरवल से पहले और बाद में कोरोना अवेयरनेस पर 1 मिनट की फिल्म दिखाना जरूरी होगा।

हाथरसः छह साल की बच्ची की दुष्कर्म के बाद मौत, शव के साथ सड़क पर बैठे परिजन

Related posts

Leave a Comment