सोनू सूद के नाम पर धोखाधड़ी से मांगे जा रहे है पैसे – उन्होंने ट्वीट कर श्रमिकों से कही ये बात

लॉकडाउन में माइग्रेंट्स की मदद करने वाले (Sonu Sood) की मेहनत पर पानी फेरा जा रहा है. सोनू सूद के नाम पर माइग्रेंट्स से पैसे लिए जा रहे हैं और उन्हें बदले में धोखा मिल रहा है. सोनू सूद ने ट्विटर पर एक मैसेज कर माइग्रेंट्स को सावधान किया है कि वह किसी भी तरह के लेन देन या पैसे किसी को न दें और किसी भी तरह के देखे में न आए. और उन्होंने कहाँ की अगर ऐसा हो तोह पास के पुलिस स्टेशन में कंप्लेंट करे। उनकी ओर से की जा रही मदद निशुल्क है और इसमें पैसे देने की जरूरत नहीं है. दरअसल सोनू को ये शिकायत मिली थी कि कुछ लोग उनके नाम पर मजदूरों से पैसे मांग रहे हैं.

Sonu Sood Helping Migrant

जहां हर ओर सोनू सूद की तारफी हो रही है, माइग्रेंट्स को घर भेजने में मदद करने के लिए, वहीं कुछ लोग इस मौके का फायदा उठाने से भी नहीं चूक रहे. सोनू ने अपने ट्विटर पर लिखा है कि, दोस्तों, जो भी सेवा हम श्रमिकों के लिए कर रहें हैं वो बिल्कुल निःशुल्क है. आपसे अगर कोई भी व्यक्ति मेरा नाम लेकर पैसे मांगे तो मना कर दीजिए और तुरंत हमें या करीबी पुलिस अफसर को रिपोर्ट कीजिए.

बता दें कि सोनू सूद लॉकडाउन में माइग्रेंट्स की मदद के लिए दिन-रात लगे हुए हैं. खास बात ये है कि उनके मदद करने का अंदाज और लिखने का व्यवहारिक तरीका हर किसी के दिल को छू जा रहा है. हाल ही में एक माइग्रेंट्स की मदद में उन्होंने दिल छू लेने वाला जवाब देते हुए लिखा कि गांव तो सब जाएंगे. और पैदल .. कभी नहीं.

पीएम मोदी ने मौजूदा कोरोना संकट को दूसरे विश्‍व युद्ध के बाद का सबसे बड़ा संकट बताया

Related posts

Leave a Comment