मोदी सरकार ने 130 करोड़ भारतीयों को Covid-19 टीका देने के लिए की 50 हजार करोड़ की व्यवस्था!

केंद्र सरकार ने करीब 130 करोड़ देशवासियों को Covid-19 का टीका देने के लिए 50,000 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है. सरकार का अनुमान है कि एक व्यक्ति को टीका देने के लिए करीब 385 रुपये खर्च होंगे. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है. ब्लूमबर्ग ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि यह रकम इस वित्त वर्ष के अंत यानी 31 March तक के लिए तय की गई है.

सरकार का अनुमान है कि हर व्यक्ति को Covid-19 टीके के दो इंजेक्शन देने होंगे. एक इंजेक्शन पर करीब 150 रुपये की लागत आएगी. इसके अलावा बाकी स्टोरेज, ट्रांसपोर्टेशन आदि मिलाकर एक व्यक्ति को Covid-19 टीके के दो इंजेक्शन देने पर करीब 385 रुपये खर्च होंगे.

सरकार की एक समिति का मानना है कि भारत में कोरोना का पीक समय जा चुका है और February 2021 तक यह नियंत्रण में आ जाएगा. गौरतलब है कि कोरोना की वजह से भारत की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान पहुंचा है. June तिमाही में देश की GDP में करीब 24% की जबरदस्त गिरावट आई थी.

दुनिया के कई देशों में Covid-19 के कई टीकों का ट्रायल चल रहा है. भारत में भी सीरम इंस्टीट्यूट और डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज के द्वारा Covid-19 के टीके का ट्रायल हो रहा है और अगले साल की शुरुआत में टीका बाजार में आने की उम्मीद है.

भारत में कोरोना एक्टिव केस घटकर 7 लाख से भी कम हुए, 24 घंटे में आए 54 हजार मरीज

Related posts

Leave a Comment