इंडो -फ्रैंच युद्धाभ्यास कल से बीकनेर में, फ्रांसीसी सेना की टुकड़ी महाजन फील्ड फायरिंग रेंज पहुंची

भारत-फ्रांस सेना का 'शक्ति' युद्धाभ्यास कल से बीकानेर में शुरू होगा
भारतीय सेना के साथ संयुक्त युद्धाभ्यास के लिए महाजन फील्ड फायरिंग रेंज पहुंची फ़्रांस की सैन्य टुकड़ी

इंडियन- फ़्रांसिसी सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास कल से बीकानेर में शुरू होगा – इंडो -फ्रैंच युद्धाभ्यास कल से बीकनेर में, फ्रांसीसी सेना की टुकड़ी महाजन फील्ड फायरिंग रेंज पहुंची

भारत और फ्रांस की सेना के बीच संयुक्त युद्धाभ्यास शक्ति 2019 कल से बीकानेर स्थित महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में शुरू होगा । 13 नवंबर तक चलने वाले इस इंडो – फ्रैंच युद्धाभ्यास में मरुस्थल में काउंटर टेरेरिज्म का अभ्यास किया जायेगा । इस इंडो – फ्रैंच सेना का “शक्ति” युद्धाभ्यास के लिए फ़ैंसीसी सेना की 38 सैनिको की टुकड़ी सोमवार को बीकानेर पहुंच चुकी है । महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में भारतीय सेना फ़्रांसिसी सेना की टुकड़ी का गर्मजोशी से स्वागत किया और उसके बाद दोनों देशो के सेनिको के बीच सदभाव पूर्ण आदान-प्रदान हुआ ।

इस युद्धाभ्यास में भारत की और से सप्त शक्ति कमांड के अधीन सिख रेजिमेंट और 6 आर्म्ड ब्रिगेड की 21 मेरीन इन्फेंट्री रेजिमेंट के जवान एवं अफीकारी भाग लेंगे । उल्लेखनीय है की भारतीय सेना अपने सहयोगी मित्र देशो की सेना के साथ समय समय पर संयुक्त युद्धाभ्यास करती रहती है । भारत और फ़्रांस के बीच शक्ति युद्धाभ्यास की शुरुआत वर्ष 2011 में हुई थी । इनके माध्यम से दोनों देशो की सेना को एक दूसरे के अनुभव से सिखने को मिलता है ।

युद्धाभ्यास शक्ति 2019 के तहत द्विपक्षीय अभ्यास की शृंखला में पांचवा संस्करण है । युद्धाभ्यास शक्ति २०१९ संयुक्त राष्ट्र जनादेश के तहत अर्ध-रेगिस्तानी इलाके की पृष्ठभूमि में काउंटर टेरिरिज्म पर केंद्रित होगा । यह अभ्यास १३ नवंबर तक चलेगा । संयुक्त प्रशिक्षण में उच्च स्तर की शारीरिक क्षमता, सामरिक अभ्यास, तकनीक और प्रक्रिया पर ध्यान दिया जायेगा । इसके दौरान संयुक्त योजना, कोर्डन एंड सर्च ऑपरेशन, सर्च एंड रेस्क्यू, संयुक्त सामरिक अभ्यास और विशेष हथियार कौशल का प्रशिक्षण किया जायेगा ।

Related posts

Leave a Comment