रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, स्लीपर और जनरल बोगियों को AC कोच में बदलेगी रेलवे

कोरोना वायरस से फैली महामारी के बीच भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए एक बड़ा कदम उतने जा रहे है. सफर आरामदायक और सुरक्षित हो इसके लिए रेलवे सभी नॉन एसी स्लीपर क्लास को 3 Tier एसी कोच में बदलने जा रही है. वहीं जनरल बोगियों को भी एसी को में बदला जाएगा. रेलवे के इस कदम के बाद ट्रेन पूरी तरह से एसी हो जाएगी.

रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, स्लीपर और जनरल बोगियों को AC कोच में बदलेगी रेलवे

कुल 3 करोड़ रुपए का खर्च आएगा

रेलवे ऐसे 230 कोच तैयार कर रही है. देखा जाये तो एक स्लीपर क्लास (Sleeper Class) को एसी कोच में बदलने में कुल 3 करोड़ रुपए का खर्च आएगा. कपूरथला रेल कोच फैक्ट्री में फिलहाल इन कोचेज के प्रोटोटाइप बनाए जा रहा है. अपडेट हुए कोचेज को इकोनॉमिकल AC 3-Tier Class के नाम से जाना जाएगा. रेलवे का कहना है कि इसमें यात्रा करने वाले लोगों की जेब पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा.

इकोनॉमिकल कोचेज के अंदर 72 की जगह 83 सीटें होंगी

अपग्रेड हुए इकोनॉमिकल कोचेज (Economical Coaches) के अंदर 72 की जगह 83 सीटें होंगी. आम तौर पर कोच में सिर्फ 72 सीट ही होती है. ये नए कोच एसी-3 टियर टूरिस्ट क्लास भी कहलाएंगे. वहीं जनरल कोचेज में भी सीटों की संख्या बढ़ाकर 100-105 कर दी जाएगी. हालांकि अभी इसका डिजाइन तय नहीं हुआ है.

जानकारी के मुताबिक पहले फेज में रेलवे 230 कोच बनाएगी. हर कोच को बनाने में लगभग 3 करोड़ रुपए खर्च होंगे, जो कि नॉर्मल AC-3 Tier को बनाने के खर्च से 10 फीसदी ज्यादा है.

कंगना के ऑफिस के बाद मनीष मल्होत्रा का ऑफिस बीएमसी के रडार पर

Related posts

Leave a Comment