हाथरस गैंगरेप: दिल्ली में महिला कांग्रेस का हल्ला बोल, प्रदर्शनकारियों को गाड़ी में बैठा ले गई पुलिस

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस में गैंगरेप की शिकार पीड़ित युवती की जान चली गई है. इस घटना को लेकर देशभर में आक्रोश है. घटना के विरोध में और दोषियों को कड़ी सजा दिलाने के लिए कांग्रेस पार्टी की ओर से मंगलवार को प्रदर्शन किया गया. दिल्ली महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को विजय चौक के पास प्रदर्शन किया और न्याय की मांग की.

इस दौरान दिल्ली पुलिस ने कई महिला प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया, साथ ही दिल्ली महिला प्रदेश अध्यक्ष की अध्यक्ष अमृता धवन (Amrita Dhawan) को भी गाड़ी में बैठाकर ले गए. साथ ही कई अन्य प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया. सुबह ही हाथरस घटना की पीड़िता ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया. जिसके बाद से ही इस घटना पर राजनीतिक बवाल हो गया है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) की ओर से योगी सरकार पर तीखा वार किया गया है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर लिखा कि हाथरस में हैवानियत झेलने वाली दलित बच्ची ने सफदरजंग अस्पताल में दम तोड़ दिया. 2 हफ्ते तक वह अस्पतालों में जिंदगी और मौत से जूझती रही. हाथरस (Hathras), शाहजहांपुर (Shahjahpur) और गोरखपुर (Gorakhpur) में एक के बाद एक रेप की घटनाओं ने राज्य को हिला दिया है.

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि UP में कानून व्यवस्था हद से ज्यादा बिगड़ चुकी है. महिलाओं की सुरक्षा का नाम-ओ-निशान नहीं है. अपराधी खुले आम अपराध कर रहे हैं. इस बच्ची के कातिलों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए. CM योगी आदित्यनाथ (Yogi Aditya Nath), यूपी की महिलाओं की सुरक्षा के प्रति आप जवाबदेह हैं. सिर्फ कांग्रेस ही नहीं बल्कि अन्य कई विपक्षी दलों और सोशल मीडिया पर लोगों ने भी योगी सरकार की आलोचना की. और इस मामले को दबाने का आरोप लगाया.

6 साल में सेना ने खरीदा 960 करोड़ का खराब गोला-बारूद, आ सकती थीं 100 तोपें

Related posts

Leave a Comment