हरप्रीत सिंह: बीजेपी का ‘पोस्टर किसान’ सिंघु बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ धरने पर बैठा

नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठनों का आंदोलन जारी है. इस बीच BJP ने एक पोस्टर जारी करके बताया था कि पंजाब में न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) से किसान खुश हैं. खास बात है कि इस पोस्टर में एक खुशहाल किसान की तस्वीर भी लगाई गई थी, उसका नाम है हरप्रीत सिंह (Harpreet Singh).

पंजाब BJP ने जिस हरप्रीत सिंह (Harpreet Singh) का पोस्टर बतौर खुशहाल किसान पेश किया, वो सिंघु बॉर्डर पर कृषि कानूनों के विरोध में धरना दे रहा है. हरप्रीत सिंह के पोस्टर को लेकर सोशल मीडिया में खूब बवाल मचा. इसके बाद पंजाब BJP ने पोस्टर को अपने फेसबुक पेज से डिलीट कर दिया है.

हरप्रीत सिंह की मानें तो पंजाब बीजेपी ने उनकी 6-7 साल पुरानी तस्वीर का इस्तेमाल अपने पोस्टर में किया. उनका कहना है कि मुझसे बिना परमिशन लिए BJP ने मेरी फोटो का इस्तेमाल किया, जबकि मैं सिंघु बॉर्डर पर डटा हुआ हूं और नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहा हूं.

Harpreet Singh ने कहा कि कोई भी किसान नए कृषि कानूनों से खुश नहीं है. BJP की अगुवाई वाली सरकार कभी भी सिंघु बॉर्डर पर नहीं आई और न ही यह जानने की कोशिश की क्यों किसान इन कानूनों के विरोध में हैं. किसान नए कृषि कानूनों को सिरे से खारिज कर रहे हैं और उनका गुस्सा बढ़ता जा रहा है.

पंजाब के होशियारपुर (Hosiyarpur) जिले के रहने वाले हरप्रीत सिंह ने कहा कि सरकार भले कह रही है कि ये कानून किसानों के फायदे में हैं, लेकिन हम जानते हैं कि यह नुकसान का सौदा है. हम वापस तभी जाएंगे, जब तीनों कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जाएगा. हरप्रीत सिंह के फोटो के इस्तेमाल पर पंजाब BJP चीफ अश्विनी शर्मा (Aswini Sharma) ने कहा कि मुझे भी यह जानकारी मिली है, मैं चेक करके बताऊंगा.

प्रयागराज: IFFCO प्लांट में अमोनिया गैस का रिसाव, दो अफसरों की मौत, 20 से ज्यादा कर्मचारी बीमार

Related posts

Leave a Comment