पंचायत चुनाव में शराब पर पूर्ण प्रतिबंध , पकडे जाने पर सरपंच पद के प्रत्याशी पर 1 लाख रूपये जुर्माना

इस गांव में होंगे शराब मुक्त पंचायत चुनाव – पंचायत समिति ने लिया फैसला- कलेक्टर बोले दूसरे गांव भी ले प्रेरणा, सामाजिक चेतना जरुरी

दोस्तों राजस्थान इस इस समय Panchyati Raj Election का दौर है । सभी जिलों में Rajasthan Sarpanch Chunav हो रहे है । पंचायती चुनाव जनवरी माह में तीन चरणों में होंगे । प्रथम चरण का मतदान 17 जनवरी और दूसरे चरण का मतदान 22 जनवरी को होगा । तीसरे चरण में मतदान 29 जनवरी 2020 को होने जा रहे है । ऐसे में सरकार ने तो पंचायत चुनाव में शराब पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया है और पकड़े जाने पर सरपंच पद के प्रत्यासी पर 1 लाख रूपये का ज़ुर्माना भी लगाया है ।

इसके विपरीत हनुमानगढ़ जिले के भादरा तहसील के भिरानी गांव में सरपंच के चुनाव बिना शराब वितरण के सम्पन्न होंगे । लोक सेवा समिति ने यह प्रस्ताव रखा और ग्रामीणों की सहमति से निरयण लिया गया की कोई भी सरपंच उम्मीदवार गांव में लोगो को शराब नहीं बटेगा । अगर वो ऐसा करते हुए पाया गया तो उस पर 1 लाख रूपपये का ज़ुर्माना लगेगा । दरअसल गांव की लोक सेवक समिति के तत्वाधान में गुरुवार को हुई बैठक में यह निर्णय हुआ । लोक सेवा समिति के सदस्य भरत आद्या ने प्रताव रखा की प्रत्यासी गांव में शराब, पैसे और उपहार नहीं बांटे । मतदाताओं को शराब गिफ्ट या किसी तरह का प्रलोभन नहीं दे ताकि चुनाव निष्पक्ष और शांतिपूर्ण तरीके से हो सके ।

Related posts

Leave a Comment