कोरोना वैक्सीन के ट्रायल में शामिल व्यक्ति की पहली मौत: ब्राजील में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की वैक्सीन की टेस्टिंग में वॉलंटियर ने तोड़ा दम

कोरोना वायरस की वैक्सीन के ट्रायल से जुड़ी बड़ी और बुरी खबर आई है. ब्राजील (Brazil) में कोरोना वैक्सीन की टेस्टिंग में शामिल एक वॉलंटिअर की मौत हो गई है. ब्राजील में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी (Oxford University) अपनी कोरोना वैक्सीन एस्ट्रोजेनिका का ट्रायल कर रही है. यहां इस वैक्सीन का तीसरे चरण का ट्रायल चल रहा है.

मरने वाले वॉलंटिअर को वैक्सीन नहीं दी गई थी, इसलिए वैक्सीन का ट्रायल नहीं रोका जाएगा. ब्लूमबर्ग के मुताबिक, ऑक्सफर्ड के वैज्ञानिकों ने कहा है कि वैक्सीन की सुरक्षा को लेकर कोई चिंता की बात नहीं है. जिस वॉलंटिअर की मौत हुई है वह ब्राजील का ही था. इससे पहले ब्रिटेन में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी (Oxford University) के वैक्सीन परीक्षण को रोकना पड़ा था. ट्रायल के दौरान एक शोधकर्ता वॉलेंटियर बीमार हो गया था. शोधकर्ताओं का कहना है जब बड़े पैमाने पर परीक्षण होता है तो साइड इफेक्ट का होना सामान्य है.

वैज्ञानिक कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी को खत्म करने के लिए प्रभावी वैक्सीन (Vaccine) की कोशिश में लगे हुए हैं. दुनिया भर में करीब एक दर्जन जगहों पर कोरोना वैक्सीन का परीक्षण चल रहा है. Oxford University की वैक्सीन परीक्षण के मामले में सबसे आगे है. वैक्सीन के तीसरे चरण के परीक्षण में करीब 30,000 वॉलेंटियर शामिल हैं.

गृह मंत्री अमित शाह का जन्मदिन आज, पीएम मोदी ने ट्विटर पर दी बधाई

Related posts

Leave a Comment