Delhi : डोर टू डोर सर्वे में 57 लाख में से 13,500 लोगों में मिले कोरोना पॉजिटिव

दिल्ली में एक बार फिर कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते नजर आ रहे हैं. राजधानी में तीसरी लहर को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अपने यहां अब तक का सबसे बड़ा कोरोना सर्वे शुरू किया था और इस दौरान 57.3 Lakh लोगों का सर्वे किया गया जिसमें 13,000 से ज्यादा लोगों में लक्षण वाले मरीज यानी सिम्प्टोमैटिक पाए गए.

दिल्ली 20 से 24 नवंबर के बीच घर-घर कराए गए 5 दिवसीय कोरोना सर्वे में 57.3 Lakh लोगों को शामिल किया गया जिसमें कुल 13,516 लोगों में ही लक्षण वाले यानी सिम्प्टोमैटिक पाए गए और 8413 के कॉन्टेक्ट्स की भी पहचान की गई. इनमें से अभी तक 11,790 लक्षण वाले और 6,546 इनके कांटेक्ट का टेस्ट कराया गया. कुल 1,178 लोग कोरोना संक्रमित मिले यानी 6.42% अभी तक का पॉजिटिविटी रेट है.

दिल्ली के 11 जिलों में सर्वे करने के लिए 8,968 टीम लगाई गई थी और हर टीम में 3 लोग थे. यह सर्वे दिल्ली के 4,456 कंटेनमेंट जोन, घनी आबादी वाले रिहायशी इलाकों, बाजारों और ऐसे इलाकों में था जहां संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है.

5 दिन चले सर्वे में सबसे ज्यादा 1,576 टीमें South-West Delhi में लगाई गईं. इसके बाद 1,300 टीमें North-West Delhi और 1,200 टीमें West Delhi में लगाई गईं. इस सर्वे के दौरान 1,178 संक्रमित लोगों में से Central Delhi में सबसे ज्यादा कोरोना केस सामने आए और यहां पर 288 लोग पॉजिटिव निकले. जबकि नई दिल्ली क्षेत्र में 275 लोग संक्रमित निकले.

1986 विश्व कप में अर्जेंटीना की जीत के नायक डिएगो माराडोना का बुधवार को निधन

Related posts

Leave a Comment