कोरोना के कहर से सर्दियों में बढ़ सकता है डेथ रेट, WHO की चेतावनी

कोरोना वायरस को लेकर सर्दियों से पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation) ने एक बार फिर चेतावनी दी है. यूरोप में WHO के रीजनल डायरेक्टर का कहना है कि सर्दियां आते ही यूरोप समेत दुनियाभर के देशों में कोरोना वायरस के मामलों में फिर तेजी से बढ़ोतरी हो सकती है. एक्सपर्ट ने सर्दियों से पहले लोगों को तैयार रहने की सलाह भी दी है.

WHO के रीजनल डायरेक्टर हंस क्लग ने कहा, ‘सर्दियों के मौसम में युवा आबादी बुजुर्गों के ज्यादा नजदीक होगी. ऐसे में संक्रमण फैलने का खतरा काफी ज्यादा रहेगा. इसे लेकर हम कोई भविष्यवाणी नहीं करना चाहते. लेकिन निश्चित तौर पर यह एक समय ऐसा होगा, जब अस्पतालों में मरीजों की संख्या काफी बढ़ जाएगी और मृत्युदर में भी ज्यादा होगा.’

क्लज ने कहा कि WHO के यूरोपीय क्षेत्र के 55 में से 32 राज्यों और क्षेत्रों में 14 दिनों की घटना दर में 10 % से अधिक वृद्धि देखी गई है. हालांकि क्लज ने यह भी कहा कि हेल्थ ऑथोरिटीज (Health Authority) फरवरी की तुलना में ज्यादा तैयार और मजबूत स्थिति में है. ये वो समय था जब कोरोना के मामलों में तेज उछाल और मौतों के आंकड़े काफी बढ़ रहे थे.

हाल ही में यूरोपियन ऑथोरिटीज़ (Eurpean Authority) ने बच्चों को वापस क्लासरूम्स में भेजने पर विचार किया है. साथ ही पैरेंट्स के वापस ऑफिस जाने पर भी सोचा जा रहा है. फ्रांस (France), ब्रिटेन(Britain) और स्पेन(Spain) जैसे देशों में बढ़ते मामलों के बीच ऑथोरिटी मास्क को लेकर सख्त नियम, एक्स्ट्रा टीचर्स और नए तरह के डेस्क के निर्माण पर ध्यान दे रही है.

हालांकि अमेरिका में ‘Back to School’ का मामला राजनीति और अराजकता का शिकार हो गया है. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्कूल खोलने के फैसले और फास्ट चेंजिंग रूल्स पर उन्हें विवाद का सामना करना पड़ा है. जबकि अमेरिका की तुलना में यूरोपियन देशों की सरकारों की कम आलोचना हुई है.

महेश भट्ट ने रिया को पढ़ाया था सच्चे प्यार का पाठ, वीडियो हुआ वायरल

Related posts

Leave a Comment