केंद्र सरकार की DEDS योजना- जानिये, कैसे मिलेगा डेयरी फार्म के लिये 7 लाख का लोन, 25 % सब्सिडी

डेयरी बिजनेस: केंद्र सरकार की नयी योजना, मिलेगा डेयरी फार्म के लिये 7 लाख का लोन, 25 % सब्सिडी

डेयरी लगाने के लिए आप भी नाबार्ड से ले सकते हैं 25% सब्सिडी अगर आप भी मिल्क डेयरी खोलकर अपनी सुविधा के हिसाब से काम करना और पैसे कमाना चाहते हैं तो DEDS आप जैसे लोगों के लिए ही है.

deds
DEDS : डेयरी लगाने के लिए आप भी नाबार्ड से ले सकते हैं 25% सब्सिडी

देश में दुधारू पशुओं से रोजगार की लगातार बढ़ती संभावनाओं के बीच केंद्र सरकार ने डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) शुरू की है. अगर आप भी मिल्क डेयरी खोलकर अपनी सुविधा के हिसाब से काम करना और पैसे कमाना चाहते हैं तो DEDS आप जैसे लोगों के लिए ही है.

अगर आप भी मिल्क डेयरी खोलकर अपनी सुविधा के हिसाब से काम करना और पैसे कमाना चाहते हैं तो जानिये,  डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS)…

भारत में डेयरी बिजनेस की बढ़ती संभावना को देखते हुए केंद्र सरकार ने साल 2018-19 में डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) के लिए 323 करोड़ रुपये का बजट रखा है.

इस रकम से सरकार डेयरी खोलने वाले लोगों को 25-33 फीसदी सब्सिडी देती है. अगर आप भी डेयरी बिजनेस की शुरुआत करना चाहते हैं तो सरकार की इस योजना (DEDS) का लाभ उठा सकते हैं.

अगर आप 10 दुधारू पशुओं की डेयरी खोलते हैं तो आपके प्रोजेक्‍ट की लागत करीब 7 लाख रुपये तक आती है. केंद्र सरकार के कृषि मंत्रालय द्वारा चलाई जा रही DEDS योजना में आपको लगभग 1.75 लाख रुपये की सब्सिडी मिलेगी.

कितने पशु रख सकते हैं?

केंद्र सरकार के कृषि मंत्रालय द्वारा यह सब्सिडी राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) के माध्‍यम से दी जाती है.

कृषि मंत्रालय द्वारा जारी सर्कुलर के मुताबिक, अगर आप एक छोटी डेयरी खोलना चाहते हैं तो उसमें आपको क्रॉसब्रीड गाय (औसत से अधिक दूध देने वाली) जैसे साहीवाल, रेड सिंधी, गिर, राठी या भैंस रखनी होंगी.

आप इस DEDS योजना के तहत खोली गयी डेयरी में 10 दुधारू पशु रख सकते हैं.

DEDS में कितनी सब्सिडी मिलेगी?

डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) के मुताबिक आपको डेयरी लगाने में आने वाले खर्च का 25 फीसदी कैपिटल सब्सिडी मिलेगी. अगर आप अनुसूचित जाति/जनजाति की कैटेगरी में आते हैं तो आपको 33 फीसदी सब्सिडी मिल सकती है.

The Central Government has launched the Dairy Entrepreneurship Development Scheme

यह सब्सिडी आपको अधिकतम 10 दुधारू पशुओं के लिए ही दी जाएगी.

एक पशु के लिए केंद्र सरकार 17,750 रुपये की सब्सिडी देती है. अनुसूचित जाति/जनजाति के लोगों के लिए यह सब्सिडी 23,300 रुपये प्रति पशु हो जाती है.

इसका मतलब यह है कि एक सामान्य जाति के व्यक्ति को 10 दुधारू पशुओं की डेयरी खोलने पर 1.77 लाख रुपये की सब्सिडी मिल सकती है.

दो पशु से भी शुरू कर सकते हैं DEDS के तहत डेयरी

डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS)के तहत दो दुधारू पशु से भी डेयरी यूनिट शुरू की जा सकती है.

अगर आप कम पूंजी से डेयरी कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो यह विकल्प भी मौजूद है. अगर आप 2 दुधारू पशु वाली डेयरी यूनिट शुरू करते हैं तो आपको 35 हजार रुपये तक की सब्सिडी मिल सकती है.

अगर आप एससी/एसटी कैटेगरी में आते हैं तो आपको दो पशु वाली डेयरी पर 46,600 रुपये की सब्सिडी मिल सकती है.

दुग्ध उत्पाद बनाने के लिए उपकरण पर सब्सिडी

डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) के तहत दुग्ध उत्पाद (मिल्‍क प्रोडक्‍ट) बनाने की यूनिट शुरू करने के लिए भी सब्सिडी दी जाती है. DEDS योजना के तहत आप दुग्ध उत्पाद की प्रोसेसिंग के लिए उपकरण खरीद सकते हैं.

अगर आप इस तरह की मशीन खरीदते हैं और उसकी कीमत 13.20 लाख रुपये आती है तो आपको इस पर 25 फीसदी (3.30 लाख रुपये) की कैपिटल सब्सिडी मिल सकती है.

अगर आप एससी/एसटी कैटेगरी से आते हैं तो आपको इसके लिए 4.40 लाख रुपये की सब्सिडी मिल सकती है.

मिल्‍क कोल्‍ड स्‍टोरेज भी बना सकते हैं आप डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) के तहत दूध और दूधे से बने उत्पाद के संरक्षण के लिए कोल्‍ड स्‍टोरेज यूनिट शुरू कर सकते हैं.

इस तरह का कोल्ड स्टोरेज बनाने में अगर आपकी लागत 33 लाख रुपये आती है तो इसके लिए सरकार सामान्‍य वर्ग के आवेदक को 8.25 लाख रुपये और एससी/एसटी वर्ग के लोगों को 11 लाख रुपये तक की सब्सिडी मिल सकती है.

और क्या है (DEDS) योजना में शामिल?

राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) की तरफ से डेयरी उद्यमिता विकास योजना (DEDS) के तहत पशु खरीदने, बछड़ा पालन, वर्मी कंपोस्ट, डेयरी पार्लर, दुग्ध शीतलन व अन्य कार्यों के लिए लघु व सीमांत किसानों सहित समूहों को प्राथमिकता दी जाती है. DEDS के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं:

https://www.nabard.org/auth/writereaddata/File/Circular-DEDS%202018-19.pdf

Disclaimer: All information is gathered from various internet sources.

Related posts

Leave a Comment