अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शंभु सिंह राठौर की मौत के बाद पिता गजेसिंह की भी सांसे थम गई

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शंभु सिंह राठौर की मौत के बाद पिता गजेसिंह की भी सांसे थम गई
12 घंटे पूर्व पुत्र की अर्थी को कांधा देने वाले पिता ने सदमे में तोडा दम

12 घंटे पूर्व पुत्र की अर्थी को कांधा देने वाले पिता ने सदमे में तोडा दम

दिवाली और प्रोमोशन की ख़ुशी राजस्थान पुलिस के डीएसपी शम्भुसिंह राठौर के परिवार के लिए उस वक्त मातम में बदल गई जब पिता और पुत्र दोनों ने 12 घंटे के अंतराल में दुनिया छोड़ दी । पदोन्नत अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शंभु सिंह राठौर की हार्ट अटैक से मौत के बाद सदमे में शम्भुसिंह के पिता गजेसिंह की भी सनसे थम गई ।

आपको बता दे की डोवाली से सप्ताह भर पहले राजस्थान पुलिस के डीएसपी शम्भुसिंह राठौर का प्रोमोशन हुआ था वे डीएसपी से एएसपी बने थे । इस खबर से पूरा गांव, परिवार और रिश्तेदार सब खुश थे । 25 अक्टूबर के शम्भुसिंह उदयपुर  आकर अपने सगे सम्बधियो की बधाई आशीर्वाद लेकर वापिस कोटड़ा आये और 26 अक्टूबर को वे अपने क्वार्टर में मृत मिले ।

दिवाली से ठीक एक दिन पहले उनका अंतिम संस्कार हुआ । अब उनकी चिटा अभी ठंडी भी बही हुई की सदमे में शंभु सिंह के पिता ने दम तोड़ दिया । मात्र 12 घंटे पूर्व बेटे की अर्थी को कंधा देने वाले ९७ वर्षीय गजेसिंह का भी रुंघे गले से ग्रामीणों ने अंतिम संस्कार किया ।

जैसलमेर जिले के पोकरण कसबे के समीप मोडरडी गांव के शंभु सिंह राठौर एक मात्र शख्स थे जो किसान परिवार से निकल कर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पद तक पहुंचे थे । पिता सहित पूरा परिवार गौरवान्वित था । 18 अक्टूबर को जारी प्रोमोशन लिस्ट में वर्तमान में डीएसपी राठौर का नाम आया था । सेवानिवृत्ति में मात्र तीन साल शेष रहते एएसपी पद पर प्रोमोशन हुआ था । लेकिन 26 अक्टूबर 2019 को अचानक मौत की खबर ने पुरे गांव में मातम छा गया ।

Related posts

Leave a Comment