कोरोना की दर्दनाक तस्वीर, चौखट पर दम तोड़ा दवा लेने आया मरीज!

बिहार के भागलपुर में दवा की दुकान पर एक मरीज ने अपना दम तोड़ दिया तो उसे किसी ने देखा तक नहीं. लोगों के दिलों में कोरोना का इतना डर इस कदर समा गया है कि मानवता भी भूल ही गए हैं. उस मरीज का शव घंटों दुकान की चौखट पर ही पड़ा रहा लेकिन किसी ने उसके पास जाने की हिम्मत तक नहीं दिखाई।

रिपोर्ट के मुताबिक मरीज दुकान पर सांस की बीमारी की दवा लेने आया था. वहां आत्माराम मेडिकल के सामने ही मरीज दवा लेकर दुकान की चौखट पर मुंह के बल गिर पड़ा और वहीँ अपना दम तोड़ दिया। कई घंटे तक उसका शव उसी अवस्था में पड़ा रहा. स्थानीय लोगों की भीड़ जुट गई लेकिन किसी ने पास जाने की कोशिश और हिम्मत नहीं की। हर किसी को कोरोना संक्रमण का खौफ सता रहा था।

कोरोना की दर्दनाक तस्वीर, चौखट पर दम तोड़ा दवा लेने आया मरीज!

सूचना मिलने के बाद पुलिस वहां जरूर पहुंची लेकिन वो भी लाचार दिखी. एसएसपी के आदेश पर एंबुलेंस बुलाई गई लेकिन कोरोना की शंका की वजह से शव को देखकर एंबुलेंसकर्मी वहां से भाग निकले। सुबह 10:30 बजे से शाम के 4 बजकर 23 तक मृतक का शव यूं ही दवा दुकान की चौखट पर औंधे मुंह पड़ा रहा लेकिन कोई उसे उठाने नहीं पहुंचा। इस दौरान न तो उस व्यक्ति की पहचान हो सकी और न ही परिजन उसे ढूंढने आए. पुलिस वहां कई बार पहुंची फिर भी लगभग पांच घंटे तक शव पड़ा रहा।

इस दौरान भागलपुर में जो घटनाक्रम दिखा उसने ज़िला प्रशासन, सिविल सर्जन और कोविड केयर में लगे अधिकारियों को शर्मसार कर दिया. शाम के साढ़े 4 बजे उस व्यक्ति की लाश वहां से किसी तरह हटाई गई, वो भी तब जब डिप्टी मेयर के कहने पर नगर निगम ने पीपीई किट के साथ अपने सफाईकर्मियों को दुकान पर भेजा नहीं तब तक।

बिहार में गोपालगंज के बैकुंठपुर में 264 करोड़ का पुल एक महीने भी नहीं टिका

Related posts

Leave a Comment